चतुर्मास के बाद मांगलिक कार्यक्रम के योग

चतुर्मास के बाद मांगलिक कार्यक्रम के योग     चार माह के लंबे अंतराल के बाद २० नवंबर २०२२ से पुनः मांगलिक एवं वैवाहिक कार्यक्रम का सिलसिला शुरू हो गया है। इस बार शुक्र तारा के अस्त हो जाने के कारण वैवाहिक जैसे अन्य मांगलिक कार्यक्रम देर से शुरू हुए, Read more…

गुरु की महिमा, Importance of Guru

गुरु की महिमा शास्त्रों में गु का अर्थ बताया गया है- अंधकार या मूल अज्ञान और रु का का अर्थ किया गया है- उसका निरोधक। गुरु को गुरु इसलिए कहा जाता है कि वह अज्ञान तिमिर का ज्ञानांजन-शलाका से निवारण कर देता है। अर्थात दो अक्षरों से मिलकर बने ‘गुरु’ Read more…